कद्दू के बीज के फायदे, उपयोग और नुकसान – Uses of Pumpkin Seeds And Side Effects in Hindi

कद्दू के बीज के फायदे (Pumpkin Seeds Benefits in Hindi) सेहत और त्वचा दोनों के लिए बहुत उपयोगी हैं | कद्दू की गिनती स्वादिष्ट और गुणकारी सब्जियों में की जाती है कद्दू से कई प्रकार के स्वादिष्ट भोजन तैयार किये जाते हैं | लेकिन क्या आपको पता है कद्दू के बीज सेहत के लिए कितने लाभकारी होते हैं इसमें हाई फाइबर और एंटीऑक्सिडेंट जो सेहत के लिए बहुत उपयोगी होते हैं |

इन छोटे से बीजो में बहुत से गुणकारी लाभ हैं कद्दू के बीज स्वास्थ के साथ-साथ त्वचा के लिए भी बहुत ही उपयोगी होते हैं | यह हर मौसम में तो नहीं मिलता है लेकिन इसके बीजों का लाभ आप हर मौसम में ले सकते हैं इसमें हाई फाइबर और एंटी ऑक्सिडेंट अधिक मात्रा में पाए जाते हैं साथ ही इसमें मिनरल्स, विटामिन ए, विटामिन के, कार्बोहाइड्रेट्स, मैग्निशियम, आयरन, कैल्शियम, विटामिन सी और विटामिन डी, भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं | आइये जानते हैं इसके क्या क्या फायदे होते हैं और उपयोग करना है |

कद्दू के बीज के फायदे सेहत के लिए : Benefits of Pumpkin Seeds in Hindi

1. वज़न कम करने में उपयोगी : कद्दू के बीज की ३० ग्राम की एक सर्विंग में करीब 1.2 ग्राम फाइबर होता है | फाइबर से भरपूर चीज़ का सेवन करने से पेट भरा भरा सा लगता है और भूख कम लगती है इससे आप कम खाते हैं | इसके साथ ही हाई फाइबर डाइट मोटापा बढ़ने से रोकती है और स्वस्थ वज़न बनाये रखने में उपयोगी होती है |

2. हृदय रोग से बचाए : कद्दू के बीज में हृदय स्वास्थ के लिए बहुत उपयोगी होते हैं एक अध्ययन के अनुसार कद्दू के बीज का तेल महिलाओं में रक्तचाप को नियंत्रित करने में लाभदायक होता है | रक्तचाप सही रहने से हृदय रोग से भी बचा जा सकता है |जैसा आपने उपर जाना की कद्दू के बीज में फाइबर की मात्रा अधिक होती है जिसका लाभ हृदय के स्वास्थ के लिए बहुत अच्छा होता है |

3. अनिंद्रा : कद्दू के बीज का सेवन करने से अनिंद्रा की समस्या से छुटकारा मिलता है कद्दू के बीज में मैग्नीशियम अच्छी मात्रा में पाया जाता है जो की मांसपेशियों को आराम देने में लाभकारी होता है | जिससे अच्छी नींद आती है |

4. पाचन के लिए लाभकारी : भोजन को पचाने में भी कद्दू के बीज के फायदेमंद होते हैं | कद्दू के बीज में भरपूर मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो पाचन क्रिया को मज़बूत करता है और साथ ही कब्ज़ जैसी पेट संबंधी समस्या से छुटकारा दिलाने के लिए भी बहुत उपयोगी होता है |

5. प्रतिरोधक क्षमता बढाने के लिए उपयोगी : कद्दू के बीज में विटामिन सी होता है यह हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मज़बूत करने का काम करता है | इसके साथ ही कद्दू के बीज में फाइबर होता है जो हमारे इम्यून सिस्टम को बेहतर करने में बहुत लाभकारी होता है |

6. ब्रैस्ट कैंसर में लाभकारी : पम्पकिन सीड्स में पाए जाने वाले गुण और पोषक तत्त्व महिलाओं को ब्रैस्ट कैंसर से बचाव करने में बहुत उपयोगी होते हैं | लेकिन इस बात का ख़ास ध्यान रखें के कद्दू के बीज से सिर्फ ब्रैस्ट कैंसर होने से बाख सकते हैं लेकिन इससे कैंसर का इलाज नहीं कर सकते |

7. आँखों के लिए लाभकारी : अगर किसी व्यक्ति को रात में कम दिखाई देने लगता है या उसकी नज़र कमज़ोर हो जाती है तो उस व्यक्ति के शरीर में विटामिन ए की कमी हो जाती है | इसलिए डॉक्टर विटामिन ए से भरपूर चीजों का सेवन करने को कहते हैं और कद्दू के बीज में विटामिन भरपूर मात्रा में पाया जाता है | नियमित रूप से कद्दू के बीजो का सेवन करने से शरीर में विटामिन ए की कमी पूरी होती है |

8. गठिया में भी लाभदायक : आज के समय में कैल्शियम की कमी कसी भी उम्र के इंसान को हो सकती है कैल्शियम की कमी से जोड़ों में दर्द गठिया आदि जैसी समस्या का सामना करना पढ़ सकता है | कद्दू के बीज में पाया जाने वाला ओमेगा 3 और कैल्शियम हड्डियों को मज़बूत करने में सहयोगी होता है | अगर आप भी हड्डियों की कमजोरी से परेशान है तो आप भी नियमित रूप से कद्दू के बीजों का सेवन करें आपको जल्दी ही फर्क महसूस होगा |

कद्दू के बीज को उपयोग करने का तरीका और रेसिपी :

कद्दू के बीज स्वादिष्ट और गुणकारी पदार्थो में गिने जाते हैं इनका आप कई पारकर से सेवन कर सकते हैं :

  • कद्दू के बीजो को भूनकर भी आप इनका सेवन कर सकते हैं |
  • आप कद्दू के बीज अंकुरित कर भी खा सकते हैं |
  • आप कद्दू को बीज को ऐसे ही खा सकते हैं |
  • कद्दू के बीजो का सेवन सलाद के तौर पर भी किया जा सकता है आप किसी भी वेजीटेबल या फ्रूट पर डाल कर खा सकते हैं |
  • कद्दू के बीज का उपयोग आप सूप, पास्ता या मीठे पकवानों के साथ भी कर सकते हैं |

आशा करता हूँ आपको यह पोस्ट कद्दू के बीज के फायदे, उपयोग और नुकसान अच्छी लगी हो अगर आपको हमारी दी गयी जानकारी पसंद आई तो इसे शेयर करें और हमें कमेंट में ज़रूर बताएं |

Leave a Comment