एसिडिटी दूर करने के आसान उपाय – Acidity Treatement in Hindi

एसिडिटी दूर करने के आसान उपाय : एसिडिटी की समस्या हर उम्र के लोगो को हो जाती है यह समस्या किसी भी उम्र के व्यक्ति को हो जाती है | बदलती आदते, गलत खान पान के साथ साथ बैठे बैठे काम करने की वजह से भी पेट से सम्भंदित कई समस्याएं हो जाती हैं जिसमे से सबसे आम समस्या एसिडिटी है | एसिडिटी यानी आपके आहार के कारण पेट में जो एसिड की मात्रा बढ़ जाती है | वैसे तो एसिडिटी को बड़ी बिमारी नहीं माना जाता है इसलिए एसिडिटी को लोग अनदेखा कर दते हैं |

एसिडिटी हमारी खान पान की गलत आदते और ख़राब लाइफस्टाइल के कारण हो जाती है लेकिन इसमें अच्छी बात यह है के आप इसमें कुछ आदते बदल कर और खान पान में बदलाव लाकर इस समस्या को ठीक कर सकते हैं | लेकिन यह समस्या हमेशा सामान्य नहीं होती कुछ लोगों में यह समस्या गंभीर भी हो सकती है | आइये हम आपको बताते हैं एसिडिटी की समस्या को दूर करने के आसान उपाय, एसिडिटी के लक्षण और इसको दूर करने के कुछ फूड्स आइये जानते हैं |

पेट में एसिड बनने के क्या कारण होते हैं : Cause of Acidity in Hindi

  1. भूख की वजह से खाना ज्यादा खालेना और सीधे जाकर लेट जाने की वजह से एसिडिटी की समस्या हो जाती है |
  2. रोज़ाना ज्यादा तला हुआ, खट्टा और मिर्च मसाले से भरे खाने से भी एसिडिटी होती है |
  3. डॉक्टर से बिना पूछे दवाइयों का ज्यादा सेवन कर लेने से पेट में जलन होने लगती है |
  4. प्रेगनेंसी में महिलाओं को एसिडिटी की समस्या ज्यादा हो जाती है |
  5. ज्यादा कॉफ़ी, चाय, कोल्ड ड्रिंक और ज्यादा शराब का सेवन करने से यह समस्या जल्दी हो जाती है |
  6. एसिडिटी होने की सबसे एहम वजह घर पर बने खाने का सेवन करने की जगह आप बाहर का जंक फ़ूड खाते हैं |
  7. ज्यादा स्मोकिंग की वजह से भी हाइपर एसिडिटी की समस्या हो जाती है |
  8. बहुत ज्यादा समय तक भूखे रहने की वजह से भी एसिडिटी हो जाती है |

हाइपर एसिडिटी के क्या लक्षण होते हैं : Symptoms of Hyper Acidity in Hindi

  • खाना खाने के कुछ देर बाद एसिडिटी के लक्षण दिखते हैं जब खाना डाइजेस्ट हो जाता है और पेट में तेज़ाब बचता है |
  • हाइपर एसिडिटी का एक लक्षण है खाना खाने के बाद खट्टी डकार आना और गले एंव मुंह तक महसूस होना|
  • कब्ज़, गैस और पाचन क्रिया से सम्भंदित कोई समस्या होना |
  • जी घबराना, उलटी आना और बेचैनी होना भी एसिडिटी के लक्षण हैं |
  • पेट में गले में और सीने में जलन होना |
  • कुछ खाने का मन न करना |
  • सास लेने में दुर्गन्ध महसूस होना |
  • लगातार हिचकी आना और बेचैनी होना |

एसिडिटी से छुटकारा पाने के घरेलु नुस्खे : Acidity ka Ilaj in Hindi

1. पेट में जब ज्यादा ही तेज़ाबियत हो मतलब अगर आपके पेट में ज्यादा जलन महसूस हो तो तुलसी के कुछ पत्ते लेकर चबा चबा कर खाएं या आप चाहें तो पानी में उबाल कर इसका पानी भी पी सकते हैं | एसिडिटी ठीक करने के लिए इस उपाय से बहुत राहत मिलती है |

2. गैस और एसिडिटी से बचने के लिए खाना खाने के बाद सौंफ का सेवन करें इससे एसिडिटी और गैस से राहत मिलती है | इसके साथ ही सौंफ वाली चाय पीने से भी एसिडिटी में आराम मिलता है |

3. पेट में तेज़ाबियत का इलाज करने के लिए जीरा भी रामबाण इलाज है आपको कितनी भी एसिडिटी हो जीरे से आप उसको ठीक कर सकते हैं | आपको सिर्फ आधा चम्मच जीरा चबा चबा कर खाना है और 10 मिनट के बाद हल्का गरम पानी पीलें |

4. एसिडिटी की समस्या को योग द्वारा भी ठीक किया जाता है इसके लिए आपको कपालभारती प्राणायाम और भास्त्रिका प्राणायाम रोज़ाना करने से एसिडिटी की समस्या कभी नहीं होती |

5. एसिडिटी के देसी नुस्खे में से एक नुस्खा एलोवेरा जूस भी है इसका सेवन आपको खाना खाने से पहले करना है | अगर आपको एसिडिटी की समस्या ज्यादा है तो खाना खाने के आधे घंटे बाद एलोवेरा जूस का सेवन करें | इसको करने से एसिडिटी की समस्या से हमेशा के लिए छुटकारा पाया जा सकता है |

6. एसिडिटी के घरेलु उपचार में दूध भी आता है जब आपके पेट में जलन हो रही हो टैब आप एक ग्लास ठंडा दूध पीलें इससे आपको तुरंत आराम मिलेगा | दूध आपके पेट में एसिड बनने से रोकता है एसिडिटी की समस्या में यह तुरंत आराम देने का काम करता है |

7. इलायची भी पेट के लिए काफी फायदेमंद होती है इससे पाचन क्रिया बिलकुल दुरुस्त रहती है जब भी आपके सीने में जलन हो या पेट में जलन महसूस हो तो 2 इलाइची खालें | इलाइची को पानी में उबाल कर उसका पानी भी पी सकते हैं |

आशा करता हूँ आपको यह पोस्ट एसिडिटी दूर करने के आसान उपाय अच्छी लगी हो अगर आपको हमारी दी गे जानकारी पसंद आई तो इसे शेयर करें और हमें कमेंट में ज़रूर बताएं |

Leave a Comment